झारखंड : आख़री चरण के लिए पड़ रहे हैं वोट, हेमंत सोरेन की दोनों सीटें भी शामिल

SHARE WITH LOVE
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares

आज झारखंड के अंतिम चरण का मतदान है. इस चरम में जेएमएम के नेता हेमंत सोरेन भी प्रत्याशी हैं. वो दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं.

झारखंड में संथाल क्षेत्र की 16 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग शुरू हो गई है. पांचवें और आख़री इस चरण में 236 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा.  संथाल क्षेत्र को झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम)का गढ़ माना जाता है. इस चरण में 40,05,287 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.  इन 16 विधानसभा सीटों पर जहां वोटिंग हो रही है, उनमें 7 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए सुरक्षित हैं. साल 2014 के विधानसभा चुनावों में इनमें से 6 जेएमएम ने और पांच बीजेपी ने जीती थीं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक सुबह 9 बजे तक 12.01 फीसदी मतदताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया था.

झारखंड : आख़री चरण के लिए पड़ रहे हैं वोट, हेमंत सोरेन की दोनों सीटें भी शामिल, 9 बजे तक 12.1 फीसदी मतदान

राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी विनय कुमार चौबे के मुताबिक, इन सभी सीटों के लिए कुल 5,389 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इन मतदानकेंद्रों में से शहरी क्षेत्र में 269 और ग्रामीण क्षेत्र में 5,120 मतदान केंद्र हैं. इस चरण में 20,49,921 पुरुष, 19,55,336 महिला और 30 थर्ड जेंडर के मतदाता है. 93,779 नए मतदाता (18-19 साल के) हैं। इसके अलावा 80 साल से ज्यादा आयु के 41,505 और 49,446 दिव्यांग मतदाता शामिल हैं. मतदान सुबह 7 बजे शुरू हो चुका है.  नक्सल प्रभावित दोपहर बोरियो, बरहेट, लिट्टीपाड़ा, महेशपुर और शिकारीपाड़ा में दोपहर 3 बजे और बाकी 11 सीटों पर शाम 5 बजे तक मतदान होगा.

हेलिकॉप्टर से भी पहुंचे कर्मचारी

कुल 28 मतदान केन्द्र ऐसे हैं जहां पर कर्मचारियों को हेलिकॉप्टरों से उनके तैनाती के क्षेत्रों तक पहुंचाया गया है.  84 दूरदराज के ऐसे इलाके हैं जहां सैटलाइट फोन की व्यवस्था की गई है. चौबे ने बताया कि पांचवें चरण में जिन 16 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव हो रहा है , वे छह जिलों में स्थित हैं. इनमें साहेबगंज जिले में राजमहल, बोरियो और बरहेट, पाकुड़ जिले में लिट्टीपाड़ा, पाकुड़ और महेशपुर, जामताड़ा जिले में नाला और जामताड़ा, दुमका जिले में शिकारीपाड़ा, दुमका, जामा और जरमुंडी, देवघर जिले में सारठ और गोड्डा जिले में पोडैयाहाट, गोड्डा और महगामा विधानसभा सीटें शामिल हैं.

सीईओ चौबे ने बताया कि पांचवें चरण के मतदान के लिए1,347 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है.  वहीं, 249 आदर्श मतदान केंद्र और 133 महिला संचालित मतदान केंद्र बनाए गए हैं. विनय कुमार चौबे ने बताया कि पांचवें चरण में 1717 मतदान केन्द्रों को अति संवेदनशील और 1,973 संवेदनशील घोषित किया गया है. इन मतदान केन्द्रों पर सशस्त्र जवानों की तैनाती की गई है.  इस चरण में पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन, राज्य के कई मंत्रियों और झारखंड विकास मोर्चा के प्रदीप यादव की किस्मत दांव पर है. सोरेन बरहेट और दुमका दोनों सीटों से चुनाव मैदान में हैं.

Source:


SHARE WITH LOVE
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares