आदिवासी सांस्कृतिक एकता महासंमेलन

SHARE WITH LOVE
  • 33
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    33
    Shares

आदिवासी एकता परिषद के बैनर तले देशभर से आए आदिवासी समाज के लोगों ने रैली निकालकर प्रशासन के समक्ष रखनी चाहिए अपनी मांगें

सभी आदिवासी भाई बेहनोको हमारी गुजारिश हेई की आभ भी इस महासंमेलन में जुड़े


आदिवासी एकता परिषद की इस महारैली में गुजरात, झारखंड, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों के आदिवासी समाज के लोग शामिल होते हे


असली आजादी ब्यूरो, सिलवासा 16 नवंबर। संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली में पिछले कई वर्षों से कार्यरत आदिवासी एकता परिषद ने आज देशभर से आए आदिवासी समाज के लोगों के साथ मिलकर देशभर में आदिवासी विस्तार में संविधान में उल्लेखित पांचवी अनुसूची को लागू करने की मांग करने के साथ-साथ प्रकृति संरक्षण एवं प्राकृतिक संसाधनों पर आदिवासी समाज के प्रथम हक की आवाज बुलंद की।

१३-१४-१५ जनवरी २०१९ को हजारों की संख्या में आदिवासी समाज के लोग एकत्रित हुए। दादरा नगर हवेली आदिवासी एकता परिषद के आयोजित की गई आदिवासी एकता परिषद की इस महारैली में गुजरात, झारखंड, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों के आदिवासी समाज के लोग शामिल हो

इस रैली में इस बात को रेखांकित करने की कोशिश की जाईगी  कि देशभर के 20 राज्यों में रहने वाले आदिवासी समाज के लोगों की सीमाएं खत्म कर आदिवासी समाज को एक बैनर के नीचे लाया जाये। साथ ही आदिवासी विस्तार में संविधान में निर्धारित की गई पांचवी अनुसूची को लागू किया जाए जिससे की प्रकृति के संरक्षण के साथ-साथ आदिवासी संस्कृति एवं कला तथा आदिवासी समाज को भी संरक्षित रखा जाए।

दादरा नगर हवेली में  हजारों की संख्या में आदिवासी समाज के लोग एक परिधान एक विशाल जनसमूह के साथ पहुंचे।

डॉ. भाविन वसावा, भरूच



SHARE WITH LOVE
  • 33
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    33
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.