रिलायंस जियो गीगाफाइबर का इंतजार कर रहे लोगों के लिए खुशखबरी

SHARE WITH LOVE
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

एक महीने में 100 जीबी डेटा फ्री. और 100 एमबीपीएस यानी मेगाबाइट प्रति सेकंड की स्पीड. जी हां, रिलायंस जियो के ब्रॉडबैंड का यही शुरुआती ऑफर हो सकता है. मोबाइल फोन इंटरनेट डेटा के क्षेत्र में क्रांति करने के बाद रिलायंस जियो की नई तैयारी ब्रॉडबैंड के लिए चल रही है. बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक रिलायंस जियो गीगा फाइबर ब्रॉडबैंड को करीब 1400 शहरों में जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला है. इन शहरों में जियो गीगा फाइबर की टेस्टिंग चल रही है. रिलायंस घर-घर इंटरनेट पहुंचाने के लिए फाइबर टू द होम यानी एफटीटीएच लाने वाली है. कंपनी शुरुआती दौर में अपनी ब्रॉ़डबैंड सेवाएं 1,100 शहरों में मुहैया कराएगी. इसके लिए कंपनी में जबरदस्त तैयारियां चल रही हैं. इन शहरों में कनेक्शन के लिए रजिस्ट्रेशन का प्रोसेस चल रहा है. जिन लोगों को भी कनेक्शन चाहिए, उनके फॉर्म भरे जा रहे हैं.

ब्रॉडबैंड कनेक्शन कब से?
रिलायंस जियो का ब्रॉडबैंड कनेक्शन लेने के लिए बीते 6 महीने से रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया चल रही है. ग्राहक जियो डॉट कॉम पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. कंपनी ने 15 अगस्त, 2018 से रजिस्ट्रेशन शुरू किए थे. तब से अब तक करीब-करीब हर शहर में ये प्रक्रिया चल रही है. कंपनी ब्रॉडबैंड कनेक्शन के लिए 4,500 रुपए की सिक्योरिटी जमा कराएगी. सिक्यॉरिटी डिपॉजिट के बदले ग्राहकों को ब्रॉडबैंड राउटर और जियो गीगा टीवी राउटर दिया जाएगा. रिपोर्ट के मुताबिक गीगा फाइबर के प्लान 500 रुपए से शुरू हो सकते हैं. कंपनी शुरुआती ऑफर में 300 जीबी इंटरनेट डेटा 3 महीने के लिए फ्री में दे सकती है. कंपनी के ब्रॉडबैंड की स्पीड 100 मेगा बाइट प्रति सेकंड की होगी. कंपनी की सेवाएं शुरू होने की तारीख अभी फाइनल नहीं है. मगर माना जा रहा है कि जून तक ब्रॉडबैंड सेवाएं शुरू हो जाएंगी. शुरुआत में ये सेवाएं मुंबई और दिल्ली के खास ग्राहकों के लिए हो सकती हैं. बाद में रिलायंस जियो ये सेवाएं 5 करोड़ घरों तक पहुंचाएगी. कंपनी अपने ग्राहकों को हाई स्पीड फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड कनेक्शन उपलब्ध कराएगी. इसे वॉल टु वॉल एफटीटीएच यानी (फाइबर टु द होम) सर्विस भी कहा जा रहा है. मतलब ये कि एक ऐसा ब्रॉडबैंड कनेक्शन जो घर-घर होगा और इंटरनेट फाइबर यानी तेज और भरोसेमंद स्पीड.

खास क्या है इसमें ?
जियो गीगा फाइबर, फाइबर टु द होम यानी एफटीटीएच पर आधारित है. एफटीटीएच का मतलब ये है कि अगर आपको इंटरनेट सर्विस चाहिए तो आपके घर तक एक केबल दिया जाएगा. अभी जिस केबल से आपको इंटरनेट मिलता है, वो ज्यादा स्पीड वाला इंटरनेट देने लायक नहीं होते. एफटीटीएच की वजह से स्पीड भी मिलेगी. इस सर्विस के लिए यूज की जाने वाली केबल दूसरों के मुकाबले फास्ट कनेक्टिविटी देती है. ये मौजूदा केबल के मुकाबले बेहतर होती है. और इससे हाई स्पीड कनेक्टिविटी मिलेगी और ऑनलाइन स्ट्रीमिंग-गेमिंग भी पहले से बेहतर होगी. कंपनी दो साल से एफटीटीएच की टेस्टिंग कर रही थी. इस सर्विस की खासियत ये होगी कि इसके साथ गीगा टीवी भी यूज कर सकेंगे. इसके अलावा स्मार्ट होम डिवाइस भी कनेक्ट कर सकेंगे. इसे घर के हर सॉकेट को भी स्मार्ट सॉकेट में बदला जा सकेगा.

कंपनी का दावा, ग्राहकों में उत्साह
कंपनी का दावा है कि ग्राहक महीनों से ब्रॉडबैंड सेवाओं का इंतजार कर रहे हैं. जियो इंटरनेट और जियो मोबाइल फोन की तरह लोगों को ब्रॉडबैंड से भी बड़ी उम्मीदें हैं. कंपनी ने इसके लिए घर-घर जाकर सर्वे कराया है. लोगों की इंटरनेट की जरूरत और उनकी खपत का सर्वे किया गया है. लोगों से समझा गया है कि आखिर उनको तेज इंटरनेट की कितनी जरूरत है. जियो का ब्रॉडबैंड भारत में एक बार फिर लोगों की सोच को बदलने का काम करेगा. लोगों के डिडिटल अनुभव को और बेहतर बनाएगा. रिलायंस जियो की टीमें जहां-जहां सर्वे करने गईं, लोगों ने अच्छा सहयोग दिखाया. अब जिस एरिया के लोग ब्रॉडबैंड कनेक्शन के लिए ज्यादा उत्साहित होंगे, वहां कनेक्शन पहले दिए जाएंगे. इस दिशा में कंपनी तेजी से काम कर रही है.


SHARE WITH LOVE
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published.