आदिवासी के विरोध के चलते रूपाणी ने सूरत से नासिक तक बनने वाला हाइवे प्रोजेक्ट रोका

SHARE WITH LOVE
  • 364
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    364
    Shares

अहमदाबाद, जेएनएन। भारत माला प्रोजेक्ट के तहत सूरत से नासिक तक बनने वाला हाइवे प्रोजेक्ट फिलहाल रोक दिया गया है। दक्षिण गुजरात के किसान व आदिवासियों के विरोध के चलते मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इसका एलान किया। रूपाणी ने कहा कि किसानों की जमीन का संपादन उनकी रजामंदी से ही होगा। 30 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवसारी आने वाले हैं।

ભારતમાલા પ્રોજેક્ટ રખાયો સ્થગિતખેડૂતોના આક્રોશને જોતા સરકારે લીધો નિર્ણય

Posted by Zee 24 Kalak on Wednesday, 23 January 2019

दक्षिण गुजरात के नवसारी के चीखली, वांसदा सहित दो दर्जन गांव के हजारों किसानों ने गुरुवार को चीखली में भारत माला प्रोजेक्ट के लिए किए जा रहे जमीन संपादन का विरोध किया। स्थानीय कांग्रेस विधायक इस विरोध प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे हैं। लोगों की नाराजगी के चलते राज्य सरकार ने इस प्रोजेक्ट के तहत सूरत से नासिक तक बनने वाले हाईवे प्रोजेक्ट को रोक दिया है।

खुद मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि किसान व आदिवासियों से जमीन संपादन के लिए जबरदस्ती नहीं की जाएगी। उनकी स्वीक्रति से ही इन इलाकों में जमीन का संपादन होगा। उसके बाद ही भारत माला प्रोजेक्ट पर काम होगा।

गौरतलब है कि आगामी 30 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विविध कार्यक्रमों में शिरकत करने को सूरत व नवसारी आने वाले हैं। पीएम की यात्रा से पहले राज्य सरकार दक्षिण गुजरात के लोगों में किसी भी तरह का असंतोष व आंदोलनकारी गतिविधि नहीं चाहती, इसलिए हजारों किसानों व आदिवासियों के खुद की जमीन बचाने सड़कों पर उतरते ही सरकार ने योजना को ठंडे बस्ते में डाल दिया।


SHARE WITH LOVE
  • 364
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    364
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.