जो हिंसा कर रहे है वो RSS के लोग हैं हमारे नहीं, हम अंबेडकरवादी हैं हिंसा नहीं करते : चंद्रशेखर

SHARE WITH LOVE
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares

आज दिल्ली के जामा मस्जिद पर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुआ है। जहां भारी संख्या में लोगों ने इस कानून का विरोध किया। वहीं भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने भी इस कानून का विरोध किया।

उन्होंने कहा, यह कानून सिर्फ मुस्लिमों के खिलाफ नहीं है इसके तहत बीजेपी सभी दलित, आदिवासी पिछड़ों और अल्पसंखयकों को उनसे उनकी नागरिकता छीनना चाहती है।

वही चंद्रशेखर ने आज के प्रदर्शन में हुई हिंसा की घटनाओं पर कहा- ”जो हिंसा कर रहें है वो हमारा नही है। हमारा शांतिपूर्वक प्रोटेस्ट ऐतिहासिक जामा मस्जिद पर चल रहा है। अम्बेडकरवादी हिंसा नही करते है। जो हिँसा कर रहे है वो आरएसएस के लोग है हमारे नही। मैं जामा मस्जिद पर ही हूँ और यही रहुँगा। हिंसा करने वाले हमारे आंदोलन को कमजोर करना चाहते है”।

बता दें कि पुरानी दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे लोगों और पुलिस के बीच शाम में हिंसक झड़पों की घटना हुई। जहाँ कईं प्रदर्शनकारी घायल हो चुके हैं। दरियागंज में थाने के सामने दो गाड़ियों में आग लगा दी गयी।

आज दोपहर से जामा मस्जिद और पुरानी दिल्ली के इलाकों में लोग इस बिल का विरोध मस्जिद और सड़कों पर उतर कर रहे थे। लेकिन पुलिस धारा 144 के तहत चंद्रशेखर सहित कई लोगों को हिरासत में ले लिया।

देश की मीडिया पिछले कईं दिनों से प्रदर्शन कर रहे छात्रों और लोगों को हिंसा फैलाने वाला कहकर बदनाम कर रहा है। पुरानी दिल्ली में आज प्रदर्शन के दौरान जो हिंसक घटनाएं हुई है। उसको लेकर भी मीडिया भीम आर्मी और नागरिक कानून का विरोध कर रहे लोगों को बदनाम कर रही है।

Source:


SHARE WITH LOVE
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares