गुजरात के वडगाम में CAA पर चक्काजाम, जिग्नेश मेवानी का केन्द्र सरकार पर बड़ा आरोप

SHARE WITH LOVE
  • 7
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    7
    Shares

गांधीनगर: केंद्र सरकार द्वारा NRC और CAA को लेकर पूर्वोत्तर राज्यों में सबसे पहले विरोध शुरु हुआ जो धीरे-धीरे दिल्ली से लेकर दक्कन तक पहुंच गई. लेकिन अब इस बिल का विरोध मोदी और शाह की मातृभूमि गुजरात में भी पहुंची हुई नजर आ रही है. जहां एक तरफ अहमदाबाद के कई इलाकों में आज बंद का मिलाजुला असर दिखाई दिया वहीं गुजरात के वडगाम में निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी की अध्यक्षता में पांच हजार से ज्यादा लोग रास्ते पर उतरकर इस बिल का विरोध किया.

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में गुजरात के कई स्थानों पर प्रदर्शन हो रहे हैं कांग्रेस के करीबी दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने आज अपने वडगाम विधानसभा क्षेत्र में प्रदर्शनकारियों के दल की अगुवाई की. मेवाणी ने ट्वीट कर कहा कि हमने वडगाम निर्वाचन क्षेत्र में सीएए और एनआरसी का विरोध करने के लिए पुलिस से अनुमति मांगी थी. उन्होंने नहीं दी तो हमने फैसले पर ही आगे बढ़ने का निर्णय लिया. हमारे समर्थकों ने छपी-पालनपुर हाईवे को जाम किया है.

CAA और NRC का विरोध करने वाले निर्दलीय विधायक मेवानी ने गुजरात एक्सक्लूजिव से बातचीत करते हुए कहा कि CAA और NRC की आड़ में बीजेपी अपनी निष्फलता को छुपाने की कोशिश कर रही है. इतना ही नहीं उन्होंने केन्द्र पर हमला बोलते हुए कहा कि इस कानून को लेकर एक धर्म विशेष को मानने वाले लोगों को निशाना बनाया जा रहा है, जिससे देश पतन की ओर जा रहा है. इसीलिए अब देश के अलग-अलग हिस्सों में इस कानून का विरोध किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि जब तक इस बिल को वापस नहीं लिया जाता हमारा संघर्ष जारी रहेगा.


SHARE WITH LOVE
  • 7
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    7
    Shares