असम : कांग्रेस पर बरसे अमित शाह, बोले- जो अपने समय में शांति नहीं ला सके वो हमें सलाह दे रहे

SHARE WITH LOVE
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares

लोगों को असमी-गैरअसमी, बोडो-गैर बोडो के रूप में बांटकर राजनीतिक रोटियां सेंकती है कांग्रेस : शाह

कोकराझार:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने असम के कोकराझार (Kokrajhar) में एक समारोह में कांग्रेस (Congress) पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “जो कांग्रेस पार्टी अपने कार्यकाल में शांति, विकास नहीं ला सकी, वो आज हमें सलाह दे रहे हैं. इतने सालों तक असम रक्त-रंजित रहा, बोडो क्षेत्र रक्त-रंजित रहा, क्या किया आपने? जो भी किया भाजपा सरकार ने किया. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त, घुसपैठिये मुक्त, आतंकवाद से मुक्त और प्रदूषण से मुक्त असम अगर बनाना है तो पीएम मोदी के नेतृत्व में सिर्फ भाजपा ही बना सकती है.

यह भी पढ़ें

बोडोलैंड टेरिटोरियल रीजन (बीटीआर) समझौते पर हस्ताक्षर की पहली वर्षगांठ पर कोकराझार में आयोजित एक समारोह में शाह ने कहा कि कांग्रेस वर्षों तक असम को रक्त रंजित करती रही. अलग-अलग आंदोलन कराती रही. पिछले 5 साल में असम में जो विकास हुआ है, वो पिछले 70 साल में नहीं हुआ. असमी-गैरअसमी, बोडो-गैर बोडो करने वालों को पहचानिए. ये लोग ऐसी बातें राजनीतिक रोटियां सेंकने के लिए कर रहे हैं.

शाह ने लोगों से अपील की है कि आने वाले चुनाव में पूर्ण बहुमत के साथ असम में एनडीए (NDA) की सरकार बनाइए और बोडोलैंड के विकास को सुनिश्चित कीजिए. असम में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं.

गृह मंत्री ने कहा कि बोडो शांति समझौते के बाद ब्रू-रियांग समझौते का प्रयास किया गया. 8 अलग-अलग हत्यारे ग्रुपों ने हथियार डालकर शांति का रास्ता चुना. ये सारी प्रक्रिया विकास के रास्ते में हमें ले जाने वाली है. आज से ठीक एक साल पहले प्रधानमंत्री के नेतृत्व में बोडो शांति समझौता हुआ. बोडो शांति समझौते के साथ प्रधानमंत्री ने संदेश दिया कि उत्तर पूर्व में जहां-जहां अशांति है, वहां बातचीत की जाए और शांति का मार्ग प्रशस्त किया जाए.

Source link


SHARE WITH LOVE
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares