मध्‍य प्रदेश की मंत्री उषा ठाकुर पर लगा शासकीय कार्य में बाधा डालने का आरोप, वन मंत्री ने दिए जांच के आदेश

SHARE WITH LOVE
  • 6
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    6
    Shares

मंत्री उषा ठाकुर से जुड़े मामले में जांच के आदेश दिए गए हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  • महू के डिप्‍टी रेंजर ने मामले में दर्ज कराई थी शिकायत
  • कहा, वन भूमि पर अवैध उत्‍खनन में जेसीबी-ट्राली जब्त की थी
  • पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर समर्थकों के साथ पहुंचीं और इसे छुड़ा ले गई

भोपाल :

मध्‍य प्रदेश के इंदौर शहर के पास महू में एक डिप्टी रेंजर ने बड़गोंदा वन भूमि पर अवैध उत्खनन का आरोप बीजेपी नेता पर लगाया है, यही नहीं, अपनी शिकायत में उन्होंने कहा है कि जब जेसीबी, ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त कर दफ्तर में रखा गया था तब राज्‍य सरकार की मंत्री उषा ठाकुर (Usha thakur) अपने कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचीं और वहां मौजूद चौकीदार, कर्मचारियों को डराकर जेसीबी और ट्रैक्टर ट्रॉली को छुड़ाकर ले गईं. इसके दूसरे दिन बड़गोंदा के डिप्टी रेंजर राम सुरेश दुबे ने लिखित शिकायत स्थानीय बड़गोंदा पुलिस थाने में दी. लेकिन मंत्री का नाम होने की वजह से पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया.

यह भी पढ़ें

गौरतलब है कि उषा ठाकुर महू से ही विधायक हैं. शिकायत में कहा गया है कि मंत्री और उनके तीन दर्जन से अधिक समर्थकों ने फॉरेस्‍ट ऑफिस में कथित तौर पर स्‍टाफ को भी धमकी दी. राज्‍य सरकार के मंत्री ऊषा ठाकुर के खिलाफ वन विभाग के कर्मचारी की शिकायत के मामले में वन मंत्री विजय शाह ने दिए जांच के आदेश दे दिए हैं. मामले की जांच पीसीसीएफ स्तर के अधिकारी से कराई जाएगी.

मध्य प्रदेश: मंत्री न पाने की वजह से बीजेपी के कई नेता हुए नाराज

Source link


SHARE WITH LOVE
  • 6
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    6
    Shares