महाराष्ट्र पहुंची त्रिपुरा हिंसा की आंच, अमरावती-नांदेड़ और मालेगांव में तोड़फोड़

SHARE WITH LOVE

नागपुर पिछले महीने त्रिपुरा में हुई हिंसा (Tripura Violence) के विरूद्ध महाराष्ट्र के अमरावती, नांदेड़ और मालेगांव में शुक्रवार को कुछ संगठनों के विरोध प्रदर्शन के दौरान कुछ अज्ञात व्यक्तियों द्वारा दुकानों पर पथराव करने के बाद इलाके के कई हिस्सों में तनाव फैल गया एक वरिष्ठ पुलिस ऑफिसर ने बताया कि जैयाब चौराहे पर दुकानों के शीशे पर पथराव किया गया और अब दुकानदारों की कम्पलेन पर केस दर्ज किया जा रहा है

महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने बोला है-त्रिपुरा में हुई हिंसा के विरूद्ध प्रदेश भर के मुसलमानों ने आज विरोध मार्च निकाला इस दौरान नांदेड़, मालेगांव, अमरावती और कुछ अन्य जगहों पर पथराव की घटनाएं हुईं मैं सभी हिंदुओं और मुसलमानों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं स्थिति नियंत्रण में है ऑफिसरों के जरिए मैं पर्सनल रूप से दशा पर नजर रख रहा हूं गलत करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा हमें सामाजिक सौहार्द्र बनाए रखना होगा

त्रिपुरा के पानीसागर में भीड़ बांग्लादेश में हिंदुओं पर हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए हिंसा पर उतर आयी थी और इससे एक धर्मस्थल, मकानों एवं दुकानों को नुकसान पहुंचा था इससे पहले उच्चतम न्यायालय ने गुरुवार को दो वकीलों और एक पत्रकार की उस याचिका पर सुनवाई के लिए सहमति जताई थी, जिसमें त्रिपुरा में अल्पसंख्यक समुदाय के विरूद्ध कथित तौर पर हुई हिंसा के तथ्य सोशल मीडिया के जरिए साझा करने के आरोप में UAPA के सख्त प्रावधानों के अनुसार दर्ज आपराधिक मुद्दे रद्द करने का निवेदन किया गया है

त्रिपुरा में अल्पसंख्यक समुदाय के पूजा स्थलों के विरूद्ध कथित हिंसा को लेकर सोशल मीडिया पोस्ट के आधार पर उच्चतम न्यायालय के वकीलों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं समेत 102 लोगों के विरूद्ध केस दर्ज किया गया है

सुप्रीम न्यायालय में चुनौती
फैक्ट फाइंडिंग कमेटी का भाग रहे नागरिक समाज के सदस्यों ने भी अवैध गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम, 1967 के कुछ प्रावधानों की संवैधानिक वैलिडिटी को इस आधार पर चुनौती दी है कि ‘गैरकानूनी गतिविधियों’ की परिभाषा अस्पष्ट और व्यापक है इसके अलावा, कानूनन आरोपी को जमानत मिलना बहुत मुश्किल हो जाता है हाल ही में बांग्लादेश में दुर्गा पूजा के दौरान अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के विरूद्ध हिंसा की खबरों के बाद त्रिपुरा में आगजनी, लूटपाट और हिंसा की घटनाएं हुईं

Source link


SHARE WITH LOVE