श्री अर्जुन मुंडा ने केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान से मुलाकात कर जनजातीय लोगों के सशक्तिकरण को गति देने के लिए संयुक्त योजनाओं की संभावनाओं पर चर्चा की

SHARE WITH LOVE
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

11 DEC 2020 5:15PM by PIB Delhi

केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्री श्री अर्जुन मुंडा ने केन्द्रीय पेट्रोलियमऔर प्राकृतिक गैस मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान से कल मुलाकात कर जनजातीय लोगों के सशक्तिकरण को गति देने के संबंध में संयुक्त रूप से कार्य करने की संभावनाओं पर चर्चा की। ट्राइफेड के प्रबंध निदेशक श्री प्रवीर कृष्ण भी इस बैठक में उपस्थित थे। जनजातीय समाज के लोगों और उनकी आजीविकाको बेहतर बनाने के अपने निरंतर प्रयासों की कड़ी में और जनजातीय लोगों के सशक्तिकरण की दिशा में काम करते हुए केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्रालय के अन्तर्गत ट्राइफेड सरकारी विभागोंऔरसमानविचारों वाले संगठनों के साथ भागीदारी की संभावनाएं तलाश रहा है जिससे बेहतर नतीजे हासिल किए जा सकें।

बैठक के दौरान साझा ताकतोंऔर विशेषज्ञता का अधिकतम लाभ के लिए दोहन कर जनजातीय लोगों कीआजीविका के विकास की दिशा में बढ़ने के लक्ष्य के साथ सहयोग के कई आयामों पर चर्चा की गई। बातचीत के दौरान वनधन केन्द्रों के माध्यम से जनजातीय विकास उ‌द्यमिता कार्यक्रमोंकोप्रोत्साहित करने, स्थानीय तौर पर उपलब्ध उपजों जैसे किरतनजोत (अपस्फीत शिरा, बेड सोर, छाले और उल्टी-दस्त के इलाज में इस्तेमाल होने वाली प्राकृतिक जड़), टमाटर, रेशमपालन आदि के लिए झारखंड में ट्राइफूड और पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अन्तर्गत सार्वजिक क्षेत्र उपक्रम के कॉरपोरेशनओन्ड कॉरपोरेशनऑपरेटेड (सीओसीओ) के परिसर में ट्राइब्स इंडिया का शोरूम स्थापित करने सहित महत्वपूर्ण पहलों पर चर्चा हुई।

बैठक के दौरान श्री अर्जुन मुंडा ने श्री प्रधान को ट्राइब्स इंडिया का सुंदर हस्तकला से निर्मित मास्क का सेट भेंट किया। श्री प्रधान ने भेंट पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि वोकल फॉर लोकल अभियान!के हिस्से के रूप में यह सुंदर हस्तकला से तैयार मास्क प्रत्येक भारतीय तक पहुंचने चाहिए।

जनजातीय कार्य मंत्रालय के अन्तर्गत ट्राइफेड जनजातीय लोगों के कल्याण और विकास को अगले तार्किक चरण में ले जाते हुए जनजातीय समाज की सतत आजीविकाऔरआमदनी के अवसरों में सुधार के लक्ष्य के साथ विभिन्न मंत्रालयोंऔरविभागों तथा विशेषज्ञ संस्थानों जैसे ग्रामीण विकास मंत्रालय, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय, डीएमएफ, आईसीएआर, आयुष मंत्रालय के साथ सामंजस्य (कन्वर्जेंस) कीयोजना बना रहा है। विकास के विविध आयाम इस कन्वर्जेंस के दायरे में होंगे। ट्राइफेड के जनजातीय समुदायआजीविका कार्यक्रम के साथ कौशल विकास और सूक्ष्म उद्यमिता कार्यक्रम के विस्तारको आत्मनिर्भरअभियान, गोवोकल फॉर लोकल, जैसी राष्ट्रीय स्तर की पहल और मंत्रालय के अन्य कार्यक्रमोंकोआधार बनाकर इसके अन्तर्गत लाने की योजना है। इस साझेदारी के सफल क्रियान्वयन और कई अन्य आगामी कन्वर्जेंस के साथ ट्राइफेड को उम्मीद है कि इससे जनजातीय आबादी के लिए आय और आजीविका का सृजन करने में मदद मिलेगी। इसका परिणाम देश भर में जनजातीय जीवन औरआजीविका में बड़े बदलाव के रूप में सामने आएगा।


SHARE WITH LOVE
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •