इंडिया ने पाक खिलाड़ियों को वीज़ा नहीं दिया, ओलंपिक वालों ने इंडिया में सारे इवेंट्स पर रोक लगाए

SHARE WITH LOVE
  • 6
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    6
    Shares

भारत में 20 फरवरी से शूटिंग वर्ल्ड कप शुरू हुआ है. ये वर्ल्ड कप 28 फरवरी तक चलेगा. 9 दिन तक चलने वाले इस इवेंट में 61 देशों के 500 शूटर्स हिस्सा ले रहे हैं. लेकिन इन शूटर्स में से 2 खिलाड़ियों को भारत आने से मना कर दिया गया. क्योंकि ये दोनों खिलाड़ी पाकिस्तान के थे. भारत ने इन दो खिलाड़ियों को पुलवामा में हुए हमले के बाद वीज़ा नहीं देने का फैसला किया.

ये दोनों पाकिस्तानी निशानेबाज़ थे बशीर और खलील अहमद. वे इस फैसले के बाद इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी के पास पहुंच गए. पाकिस्तान ने कहा कि उनके साथ गलत हुआ है. उनकी अर्जी के बाद आईओसी में बैठक हुई. फैसला हुआ कि हां भारत ने पाकिस्तान के खिलाड़ियों के साथ गलत किया है. जिसके बाद भारत पर कार्रवाई करते हुए आईओसी ने भारत में ओलंपिक से जुड़े सभी इवेंट्स पर रोक लगा दी. इतना ही नहीं, उन्होंने दूसरे सभी अंतर्राष्ट्रीय खेल संघों से अपील भी की कि वो भारत में खेलों का आयोजन न होने दें. ये फैसला स्विट्जरलैंड के लौसॉन में हुई ओलंपिक एग्जीक्यूटिव कमेटी की बैठक हुआ.

कमेटी ने ये भी कहा कि जब तक भारत सरकार की तरफ से लिखित आश्वासन नहीं मिलता, तब तक ये बैन जारी रहेगा. क्योंकि भारत ने पाकिस्तान के खिलाड़ियों को वीज़ा न देकर ओलंपिक चार्टर के उसूलों को तोड़ा है. नियम के मुताबिक कोई भी मेजबान देश किसी भी खिलाड़ियों के साथ कोई भेदभाव नहीं कर सकता. चाहे वो किसी भी देश का हो.

क्या होता है ओलंपिक चार्टर?

बेसिकली ये एक रूल बुक है, जिसे ओलंपिक कमेटी ने पहली बार 1908 में पब्लिश किया था. हालांकि इसे तैयार 1898 में ही कर दिया था. इसी रूल बुक में सारे नियम और शर्तें लिखी होती हैं, जिसके मुताबिक सभी खेलों का आयोजन होता है. इस नियम के तहत ही सारे देश अपने-अपने देश में खेलों का आयोजन करते हैं. इस ओलंपिक चार्टर के मुताबिक कोई भी मेजबान देश, किसी भी खिलाड़ी के साथ, चाहें वो किसी भी देश का हो. भेदभाव नहीं कर सकता. पाकिस्तान ने इसी चार्टर के उल्लंघन का हवाला देते हुए ओलंपिक एसोसिएशन से शिकायत की है.

अब शिकायत हुई, फिर आईओसी ने कार्रवाई की. ओलंपिक के सारे इवेंट्स तो कैंसिल किए ही. इसके साथ ही भारत का ओलंपिक कोटा भी रद्द हो गया. दिल्ली में जारी विश्वकप में 16 ओलंपिक कोटा है, जिसे आईओसी ने कैंसिल कर दिया. इस फैसले के बाद फिर एक बैठक हुई जिसमें फैसला हुआ कि आईओसी 16 ओलंपिक कोटा की जगह 2 ही कोटा हटाएगा.

आईओसी ने अपनी बैठक के बाद कहा कि पाकिस्तानी खिलाड़ी सिर्फ 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल मुकाबले में हिस्सा लेने आ रहे थे, और इस मुकाबले में वो दो ओलंपिक कोटा हासिल कर सकते थे. इसी वजह से 16 की जगह सिर्फ 2 कोटा हटाने का फैसला किया गया है. इस फैसले के बाद नेशनल राइफल्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने राहत की सांस ली है.

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमला हुआ था. इस हमले में भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे. बाद में इस हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली. ये आतंकी संगठन पाकिस्तान में एक्टिव है. इसी वजह से भारत ने पाकिस्तान पर कार्रवाई करते हुए खिलाड़ियों का वीज़ा कैंसिल कर दिया.

sours:


SHARE WITH LOVE
  • 6
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    6
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.