अमेरिका ने लश्‍कर-जैश सहित कई आतंकी संगठनों की 6.3 करोड़ डॉलर की वित्तीय मदद बाधित की

SHARE WITH LOVE
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


ने लश्कर के 3,42,000 डॉलर और जैश के 1,725 डॉलर के कोष को बाधित करने में सफलता हासिल की (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • के राजकोषीय विभाग की रिपोर्ट में दी गई जानकारी
  • वर्ष 2019 में रोकी गई आतंकी संगठनों की यह वित्‍तीय मदद
  • लश्‍कर, जैश और हरकत है पाकिस्‍तान से संबद्ध आतंकी संगठन

वॉशिंगटन :

ने विदेशी आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई के तहत वर्ष 2019 में पाकिस्तान के और सहित अन्य आतंकी संगठनों के करीब 6.3 करोड़ डॉलर की वित्तीय मदद बाधित की है. यह जानकारी अमेरिका के राजकोषीय विभाग ने दी. अमेरिका के राजकोषीय विभाग ( Department of Treasury) द्वारा बृहस्पतिवार को जारी वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका ने () के 3,42,000 डॉलर, () के 1,725 डॉलर, () के 45,798 डॉलर के कोष को बाधित करने में सफलता हासिल की है. उल्लेखनीय है कि ये तीनों पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन हैं. हरकत-उल- मुजाहिदीन जिहादी समूह है जो कश्मीर में अपनी गतिविधियों को अंजाम देता है.

यह भी पढ़ें

बड़ी कामयाबी : दुबई से लाया गया पंजाब का मोस्ट वांटेड और खालिस्तानी आतंकी सुख बिकरीवाल 

रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान से संचालित और कश्मीर में अपनी गतिविधियों को अंजाम दे रहे एक और संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के 4,321 डॉलर को वर्ष 2019 में रोकने में सफलता मिली जबकि उसके पिछले साल एजेंसियों को इस संगठन की 2,287 डॉलर की मदद रोकने में सफलता मिली थी. विभाग के मुताबिक अमेरिका ने तहरीक-ए-तालिबान के वर्ष 2019 में 5,067 डॉलर जब्त किए. उल्लेखनीय है कि डिपार्टमेंट ऑफ ट्रेजरी ऑफिस ऑफ फॉरेन एसेट कंट्रोल (ओएफएसी) अमेरिका की अहम एजेंसी है जिसकी जिम्मेदारी अंतराष्ट्रीय आतंकवादी संगठनों और आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों की संपत्ति पर लगे प्रतिबंध को लागू करवाना है.

पाकिस्तान में हाफिज सईद पर फिर दिखावे की कार्रवाई, 15 साल की कैद

रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका ने वर्ष 2019 में करीब 70 घोषित आतंकवादी संगठनों के 6.3 करोड़ डॉलर के वित्तपोषण को रोकने में सफलता हासिल की जिनमें सबसे अधिक 39 लाख डॉलर अकेले अलकायदा के हैं जबकि वर्ष 2018 में अमेरिका ने आतंकवादी संगठनों के 4.6 करोड़ डॉलर बाधित किए थे जिसमें 64 लाख डॉलर की राशि अलकायदा की थी.इस सूची में हक्कानी नेटवर्क भी है जिसकी 26,546 डॉलर की राशि जब्त की गई जो वर्ष 2018 के 3,626 डॉलर के मुकाबले अधिक है.रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका ने वर्ष2019 में लिब्रेशन टाइगर ऑफ तमिल ईलम (लिट्टे) की 5,80,811 डॉलर की राशि रोकने में सफलता हासिल की है.विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका ने आतंकवाद प्रायोजित करने वाले देशों की सूची में शामिल ईरान, सूडान,सीरिया और उत्तर कोरिया की 20.019 करोड़ डॉलर की राशि बाधित की है.

Newsbeep

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मुठभेड़ के बाद 5 आतंकियों को किया गिरफ्तार

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link


SHARE WITH LOVE
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •