इथियोपिया में बढ़ते तनाव को लेकर ब्लिंकन ने केन्या के राष्ट्रपति से बात की

SHARE WITH LOVE


अफगानिस्तान में तालिबान की सत्ता आने के बाद वहां आंतरिक मामलों के मंत्री बने सिराजुद्दीन हक्कानी का दबदबा अब पाक में भी बढ़ रहा है. हक्कानी को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई का खास माना जाता है.

वहीं, अमरीका ने सिराजुद्दीन हक्कानी पर पांच मिलियन US डॉलर का पुरस्कार घोषित किया हुआ है. हक्कानी नेटवर्क को अमरीका ने आतंकवादी संगठन सूची में शामिल करते हुए प्रतिबंधित भी किया है. इसके बावजूद सिराजुद्दीन हक्कानी पाक सरकार के साथ मिलकर तहरीक-ए-तालिबान पाक (TTP) से बातचीत कर रहा है. जानकारों ने चेतावनी दी है कि अफगानिस्तान में हक्कानी के बढ़ते रुतबे से तालिबान के और खूंखार होने का डर है. इससे न केवल अफगानिस्तान बल्कि, पूरी दुनिया को खतरा हो सकता है.

जानकारों के मुताबिक, सिराजुद्दीन हक्कानी और उसका चाचा खलील दुनिया का सबसे दुर्दांत आतंकी संगठन हक्कानी नेटवर्क को चलाते हैं. यह एक कट्टर अफगान सुन्नी इस्लामी आतंकी संगठन है, जिसे तालिबान का भाग माना जाता है. अमरीका ने 2012 में हक्कानी नेटवर्क को आतंकी संगठन करार दिया था.

हक्कानी नेटवर्क के सभी लड़ाके अपने आप में सबसे अधिक हिंसक हैं. सत्ता पाने के बाद हक्कानी के और अधिक खूंखार होने की आसार है. इससे दुनिया में शांति और दयालु बनने का ढोंग कर रहे तालिबान को भी नुकसान पहुंच सकता है. वह स्वयं ही तालिबान का सर्वेसर्वा बन सकता है, क्योंकि समूह में उसके विरोधी लोग काबुल से निर्वासित जीवन जी रहे हैं. मुल्ला बरादर और मुल्ला यूसुफ तालिबान के दो ऐसे नेता हैं जिनका सिराजुद्दीन हक्कानी से पुरानी दुश्मनी है.

:-

सिराजुद्दीन हक्कानी के नेतृत्व में ही हक्कानी नेटवर्क पहले से कहीं अधिक खूंखार हुआ. इसी ने काबुल में सबसे पहले हाई-प्रोफाइल आत्मघाती हमलों की सीरीज प्रारम्भ की. वास्तव में, हक्कानी नेटवर्क तालिबान का पहला ऐसा धड़ा था जिसने आत्मघाती बम विस्फोटों को अपनाया.

हक्कानी ने आत्मघाती हमलों का उपाय अल कायदा से सीखा और 2004 में उपयोग करना प्रारम्भ किया. पिछले दो दशक में काबुल में जितने भी हमले हुए हैं, उनसें से 90 प्रतिशत में हक्कानी नेटवर्क का हाथ था. हक्कानी और अल कायदा के बीच संबंध आज भी मजबूत हैं. ऐसे में अफगानिस्तान की धरती पर अल कायदा के एक बार फिर मजबूत होने का अंदेशा है.



Source link


SHARE WITH LOVE